कैबिनेट मंत्री बहुगुणा ने जिले में भ्रमण के दौरान पशुपालकों की समस्याओं के समाधान के अधिकारियों को दिए निर्देश

कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा ने जिले के अपने भ्रमण के दौरान अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर विभागीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने और जन-प्रतिनिधियों के सुझावों पर अमल कर योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन करते हुए पात्र लोगों को लाभान्वित करने के निर्देश दिए। बहुगुणा ने सिंगोट गांव जाकर मत्स्य तालाबों एवं ट्राउट हैचरी का निरीक्षण करने के साथ ही मत्स्य पालकों को चौबीस लाख बीस हजार रूपये की अनुदान राशि के चेक वितरित किए।
 
राज्य के पशुपालन, दुग्ध विकास, मत्स्य पालन, कौशल विकास एवं सेवायोजन मंत्री सौरभ बहुगुणा जिले के तीन दिवसीय भ्रमण के दौरान डामटा, नौगांव, पुरोला, बड़कोट और ब्रह्मखाल में जनता और पशुपालकों से भेंट एवं जन-संवाद करने के बाद गत देर सायं जिला मुख्यालय उत्तरकाशी पहॅुचे। जहां पहुंच कर बहुगुणा ने जिला सभागार में पशुपालन, मत्स्य एवं डेयरी विकास विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय योजनाओं की प्रगति की पड़ताल की। उन्होंने अपने भ्रमण के दौरान आम लोगों एवं पशुपालकों द्वारा उठाए गए मामलों के निस्तारण के बावत अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा कि विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन और लाभार्थियों के चयन में जन-प्रतिनिधियों के सुझावों पर समुचित विचार कर तत्परता से अमल किया जाय।
 
 
उन्होंने योजनाओं एवं लाभार्थियों के चयन की क्रॉस चेकिंग का मैकेनिज्म विकसित किए जाने पर जोर देने के साथ ही विभागीय योजनाओं के पाक्षिक आधार पर समीक्षा करने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि योजनाओं को प्रोफेशनल तरीके से संचालित कर स्थानीय लोगों की आजीविका के अवसरों में वृद्धि की जा सकती है और पलायन रुक सकता है। उन्होंने कहा कि जिले में आगामी मार्च माह तक पशुपालन, मत्स्य और डेयरी विभाग न्यूनतम एक-एक योजना को मॉडल के तौर पर जमीन पर उतारना सुनिश्चित करें।  बहुगुणा ने गोवंश संरक्षण के लिए जिले में प्रशासन के द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए जिलाधिकारी को बधाई देते हुए ऐसे प्रयास निरंतर जारी रखे जाने की आवश्यकता बताई।
(Visited 229 times, 1 visits today)