कालीमठ धाम पहुँचे सीएम पुष्कर सिंह धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सिद्धपीठ कालीमठ मंदिर में पहुंचकर मां काली की पूजा-अर्चना की। साथ ही क्षेत्रीय विकास से जुड़ी कई योजनाओं की घोषणा भी की।
मंगलवार को सीएम धामी के कालीमठ पहुंचने पर जन प्रतिनिधियों व स्थानीय लोगों द्वारा मुख्यमंत्री का ढोल-नगाड़ों व फूल-मालाओं के साथ जोरदार स्वागत किया गया। मां काली के मठ में आयोजित कार्यक्रम में क्षेत्रीय जनता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार द्वारा पूरी पारदर्शिता के साथ विकास कार्यों को गति दी जा रही है। प्रदेश सरकार द्वारा जो संकल्प लिए गए उन्हीं के अनुसार विकास कार्यों को पूर्ण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों में सभी का सहयोग भी जरूरी है तभी वह कार्य सफलता पूर्वक पूर्ण हो सकता है। उन्होंने कहा कि यशस्वी प्रधानमंत्री के नेतृत्व में एक नई कार्य संस्कृति व व्यवहार देश के अंदर आया है। जो सभी को प्रेरणा दे रहा है।सीएम ने कहा कि हमने संकल्प लिया था कि नई सरकार के गठन के बाद उत्तराखंड में समान नागरिकता कानून लागू लाया जाए, जिसकी प्रक्रिया शुरू हो गयी है। उन्होंने कहा कि भारत माला श्रृंखला में हर क्षेत्र को सड़क मार्ग से जोड़ा जा रहा है तथा ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक रेल लाइन का कार्य बड़ी तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष चारधाम यात्रा ऐतिहासिक होने वाली है। जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना है।उन्होंने कहा कि पर्यटन हमारी आजीविका का प्रमुख साधन हैं इससे सभी को लाभ प्राप्त होता है । इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा कोटमा विद्यालय में स्थाई भवन बनाने और चिलौंड सड़क मार्ग की घोषणा की गई। साथ ही विद्यापीठ डिग्री काॅलेज में बीएससी की कक्षाओं को बढ़ाने का कार्य किया जाएगा। इसके अलावा गौरीकुंड से रामबाड़ा-चैमासी कालीमठ मोटर मार्ग का कार्य भी किया जाएगा। इसके अलावा अन्य जो भी मांग पत्र दिए गए हैं उनका आंकलन कर उस पर आवश्यक कार्यवाही हेतु विचार किया जाएगा। इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक श्रीमती शैला रानी रावत ने मुख्यमंत्री के उनकी विधान सभा क्षेत्र में आगमन पर स्वागत एवं अभिनंदन किया । उन्होंने मुख्यमंत्री को क्षेत्र की कई समस्याओं से अवगत कराते हुए उन्हें पूरा करने का आग्रह किया गया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता ने आपदा के दंश को झेला है ।जिसके लिए उन्होंने यात्रा के दौरान स्थानीय लोगों को प्राथमिकता देने का आग्रह किया गया।

(Visited 159 times, 1 visits today)