बाबा केदारनाथ धाम के खुले कपाट, दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं का उमड़ा सैलाब

 

शुक्रवार को केदारनाथ धाम के कपाट विधि विधान से श्रद्धालुओं के लिए खोल दिये गए हैं। सीएम धामी की मौजूदगी में 2 साल बाद बाबा केदार के कपाट खोले गए।

आज सुबह 6 बजकर 25 मिनट पर मराठा रेजिमेंट की भक्तिमय धुन के साथ बाबा केदारनाथ के कपाट खोले गए हैं। इस मौके पर राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अलावा देश-विदेश से हजारों की संख्या में पहुंचे श्रद्धालु इस पल के साक्षी बने ।

केदारनाथ धाम के रक्षक भकुंट भैरव के आवाहन के बाद सुबह 6 बजकर 25 मिनट पर बाबा केदारनाथ के कपाट खोले गए। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अपने परिजनों के साथ बाबा केदारनाथ की पुजा अर्चना कर दर्शन किये। 

सीएम धामी ने कहा कि ये एक ऐतिहासिक क्षण है। बाबा केदारनाथ की कृपा सभी पर बनी रहे। ये हमारे सौभाग्य है कि हमें बाबा केदार के दर्शन करने का मौका मिला। कोरोना के चलते पिछले 2 सालों से भक्त केदारनाथ दर्शन नही पा रहे थे।

पीएम मोदी के नाम से पहली पूजा की गई और करीब  10 क्विंटल फूलों से मंदिर को सजाया गया  सुबह विधि विधान से पूजा अर्चना के बाद बाबा केदारनाथ के कपाट भक्तों के लिये खोल दिये गए है। अब भक्त आसानी से बाबा के दर्शन कर सकेंगे। लेकिन अभी श्रद्धालु केदारनाथ की पूजा अर्चना नही कर पाएंगे। यहाँ याद दिला दे कि इस बार केदारनाथ दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओ की संख्या प्रतिदिन के हिसाब से सीमित की गई है। एक दिन मे केवल 12000 श्रद्धालु  ही बाबा केदार के दर्शन कर पायेंगे ।  

मान्यता है कि केदारनाथ की पूजा से पहले भकुंट भैरवनाथ की पूजा की जाती है और उनकी पूजा के बाद ही भक्त अपने आराध्य की पूजा अर्चना कर सकते हैं। शनिवार को भैरव की पूजा के बाद बाबा की पूजा शुरू हो जाएगी। इसके साथ ही इस बार भक्त भगवान केदार के दर्शन के साथ ही आदि गुरु शंकराचार्य के भी दर्शन कर सकेंगे। इस बार बाबा के मंदिर के पीछे आदि गुरु शंकराचार्य मंदिर बनाया गया है यानि इस बार भक्तों को केदार बाबा के साथ-साथ आदि गुरु शंकराचार्य का भी आशीर्वाद प्राप्त होगा।

(Visited 102 times, 1 visits today)

One thought on “बाबा केदारनाथ धाम के खुले कपाट, दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं का उमड़ा सैलाब

Comments are closed.