नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने साधा निशाना, पर्यटन मंत्री को धरातल पर जाकर लेना चाहिए व्यवस्थाओ का जायजा

विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा की व्यवस्थाओ पर सवाल खड़े करते हुए सतपाल महाराज पर निशाना साधा। कांग्रेस नेता यशपाल आर्य ने कहा कि चारधाम यात्रा में सुविधाओं का हवाला देने वाली धामी सरकार के पर्यटन मंत्री को धरातल में जाकर व्यवस्थाओ का जायजा लेना चाहिए।
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि चारधाम उत्तराखंड की अर्थव्यवस्था में चारधाम यात्रा का योगदान लगभग 1200 करोड़ रुपये का है। चारधाम यात्रा में देश विदेश से लोग भगवान के दर्शन के लिए उत्तराखंड आते हैं। लेकिन ऐसी अव्यवस्थाओ के चलते श्रद्धालुओं के सम्मुख राज्य की बुरी छवि बन रही है।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज पर साधा निशाना


आर्य ने कहा कि जब चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का आना शुरू हुआ, तो राज्य के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज दुबई घूम में फ़ोटो खिंचवा रहे थे। यदि समय रहते भाजपा सरकार ने चारधाम यात्रा की व्यवस्थाओ पर ध्यान नही दिया तो इसका असर उत्तराखंड की अर्थव्यवस्था और चारधाम यात्रा में रखने वाले लोगों की आजीविका पर भी दिखाई देगा।

2 हफ्ते में 41 मौत


उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा 3 मई को शुरू हुई थी। और अभी तक मात्र 2 हफ्ते में 41 लोगों की मौत हो चुकी है। हर दिन बढ़ते मौत के आंकड़े प्रदेश की छवि बिगाड़ने का काम कर रहे हैं।

प्रश्नो के नही हैं उत्तर

आर्य ने कहा कि भाजपा सरकार ये बताने में भी असमर्थ है कि आखिर एक रात में कितने यात्री केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री यमनोत्री में रह सकते हैं। स्वास्थ्य
सुविधाओं के नाम पर सरकार ने श्रद्धालुओं को अपने करीबियों से जुड़ी स्वयं सेवी संस्थाओं के भरोसे छोड़ दिया है।

(Visited 20 times, 1 visits today)