केदारनाथ: अब नही बनेगा ‘सेल्फी पॉइंट’, केदारनाथ पैदल मार्ग पर लगेंगे “सीडीएस” विपिन रावत के चित्र

केदारनाथ में नहीं बनेगा सेल्फी पॉइंट। ये हम नहीं बल्कि उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज बोल रहे हैं। हालांकि सेल्फी पॉइंट की जगह केदारनाथ धाम के पूरे पैदल मार्ग पर भारत के प्रथम “चीफ डिफेंस स्टाफ” स्व0 जनरल विपिन रावत के चित्र लगाए जाएंगे।

पर्यटन विभाग की तरफ से दो दिन पहले एक घोषणा की गई थी । जिसमे पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने केदारनाथ में बॉलीवुड अभिनेता स्व0 सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर सेल्फी पॉइंट बनाने की बात कही गयी थी। लेकिन सोशल मीडिया पर लोगो के विरोध के बाद पर्यटन विभाग ने अपना सेल्फी पॉइंट का फैसला अब ड्रॉप कर दिया है।

“सीडीएस” स्व0 जनरल विपिन रावत के लगेंगे चित्र


पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने अपने ट्विटर एकाउंट पर बयान जारी करते हुए कहा कि अब सेल्फी पॉइंट की जगह केदारनाथ धाम जाने वाले रास्ते भारत के वीर सपूत व भारत के पहले रक्षा प्रमुख ‘चीफ डिफेंस स्टाफ’ (सीडीएस) स्व0 जनरल विपिन रावत के चित्र पूरे रास्ते में लगाये जायेंगे। ताकि देश के इस वीर सपूत के साथ लोग सेल्फी खिंचवाकर गौरवांवित महसूस कर सकें और यही इस वीर सपूत के लिए हमारी तरफ से सच्ची श्रद्धांजलि भी होगी। 

निर्णय का हुआ था विरोध

पर्यटन मंत्री के “सेल्फी पॉइंट” वाली बात का लोगों ने बहुत विरोध किया। लोगों का कहना था कि आखिर केदारनाथ में सेल्फी पॉइंट बनाने की आवश्यकता ही क्या है? क्योकि केदारनाथ तो विश्व के आकर्षण का केंद्र है। फिर पर्यटकों को लुभाने के लिए सेल्फी पॉइंट की आवश्यकता विभाग को आखिर पड़ क्यो रही है?

केदारनाथ में सेल्फी पॉइंट का कंसेप्ट ‘ समझ से परे 

विश्व प्रसिद्ध केदारनाथ धाम अपने आप में “सेंटर ऑफ अट्रैक्शन” है। चार धामों में सबसे ज्यादा पर्यटक केदारनाथ दर्शन के लिए ही आते हैं। लेकिन इसके बावजूद भी पर्यटन विभाग फ़िल्म अभिनेता स्व0 सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर केदारनाथ धाम में सेल्फी पॉइंट बनाने की पैरवी कर रहा था। जो बात कुछ समझ नही आयी।

क्या बिना प्लांनिग के की घोषणा

केदारनाथ में सेल्फी पॉइंट का कॉन्सेप्ट क्या कोई सोची समझी पहल थी या ये जल्दबाजी का फैसला था। चाहे जो भी हो ।लेकिन अब केदारनाथ में सेल्फी पॉइंट नही बन रहा। जिसकी घोषणा खुद पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने ट्विटर के माध्यम से की है।

(Visited 49 times, 1 visits today)