राजकीय स्पोर्ट्स स्टेडियम में व्यवस्थाओं को किया जाए अधिक सुदृढ़ – विधानसभा स्पीकर

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष रीतू खंडूडी भूषण ने गाड़ीघाट स्थित शशिधर भट्ट राजकीय स्पोर्ट्स स्टेडियम में व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। स्टेडियम निरीक्षण के दौरान विधानसभा स्पीकर ने कहा कि बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए व्यवस्थाओं को और अधिक सुदृढ़ीकरण की आवश्यकता है।

मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष रीतू खंडूड़ी भूषण ने गाड़ीघाट स्थित शशिधर भट्ट स्पोर्ट्स स्टेडियम का निरीक्षण किया । साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों के हॉस्टल, बैडमिंटन कोर्ट सहित विभिन्न व्यवस्थाओं की भी जानकारी ली|

उत्तराखंड में नहीं है प्रतिभाओं की कमी


इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि राजकीय स्पोर्ट्स स्टेडियम में व्यवस्थाओं को और अधिक सुदृढ़ करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में खिलाड़ियों और प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं हैं। बस कमी है तो संसाधनों की। वो खिलाड़ियों के लिए सुविधाओं को दुरस्त करने की दिशा में कार्य करेंगी|उन्होंने कहा कि इसी स्टेडियम से विभिन्न खेलों में प्रतिभाग कर कई खिलाड़ी राष्ट्रीय स्तर पर उत्तराखंड का नेतृत्व कर चुके हैं। जोकि कोटद्वार वासियों के लिए गौरव की बात है|

खेलों के प्रति बेहद गंभीर है प्रदेश सरकार

उन्होंने कहा की प्रदेश सरकार पूरी गंभीरता से खेलों को प्रोत्साहन दे रही है। साथ ही सरकार द्वारा खेल और खिलाड़ियों को लेकर कई योजनाएं भी संचालित की जा रही हैं। प्रदेश के युवा हर क्षेत्र में आगे बढ़कर विश्व पटल पर अपनी शानदार पहचान बना सके। उसके लिए भाजपा सरकार केंद्र और राज्य दोनों स्तरों पर काम कर रही है।

स्टेडियम की समस्याओं का करें समाधान


स्टेडियम इनचार्ज संदीप डुकलान ने बताया कि स्टेडियम में वर्तमान में लगभग 200 बच्चे तीरंदाजी, एथलेटिक, बॉक्सिंग, बैडमिंटन, क्रिकेट, फुटबॉल, हॉकी, वॉलीबॉल सहित अन्य खेलो का प्रशिक्षण ले रहे हैं| लेकिन स्टेडियम के समीप जो कूड़े के ढेर लगा है उसे हटवाया जाना आवश्यक है। क्योकि इससे दुर्गंध और गंदगी उत्पन्न हो रही है। वही संदीप डुकलान ने विधानसभा स्पीकर के सामने स्टेडियम की समस्याओ जैसे फेंसिंग करवाए जाने, फुटबॉल ग्राउंड का विस्तारीकरण कर 400 मीटर ट्रैक बनवाए जाने, रात को खेल अभ्यास के लिए स्ट्रीट लाइट लगवाए जाने सहित अन्य समस्याओं के समाधान का भी आग्रह किया|

खोह नदी के कारण स्टेडियम पर मंडराता खतरा

खोह नदी में अनियमित चैनलाइजेशन का कार्य किये जाने से स्टेडियम पर खतरा मंडराने लगा है।चैनेलाइजेशन के नाम पर स्टेडियम की सुरक्षा दीवार की नींव खोदकर वहां से पत्थर हटा दिए हैं, जिससे सुरक्षा दीवार अंदर से खोखली हो गई है और बरसात में नदी के उफान पर आने से स्टेडियम के बहने का खतरा बन गया है। विधानसभा अध्यक्ष रीतू खंडूडी ने स्टेडियम के बाहरी परिसर का जायजा लेकर समस्याओं के निस्तारण का आश्वासन दिया|

(Visited 24 times, 1 visits today)