शनिवार को गेठिया की खाई में मिले, रुद्रपुर के दो सगे भाईयों के शव, दोनों 26 जून से थे लापता

देहरादून- नैनीताल के गेठिया की खाई में मिले शवों की पहचान हुई। 26 जून से लापता रुद्रपुर निवासी दो सगे भाईयों के शव शनिवार को भवाली-ज्योलीकोट नेशनल हाईवे पर गेठिया के पास मिले। ये दोनों भाई 26 जून को हल्द्वानी के खालसा इंटर कॉलेज में फार्मेसी की परीक्षा देने आए थे, जिसके बाद से वो लापता थे।

शनिवार को भवाली-ज्योलीकोट नेशनल हाईवे पर गेठिया के पास स्थानीयों लोगों को दो बाइक सवार युवकों के शव मिले थे। जिससे इलाके में हड़कंप मच गया था। आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस सूचना पाकर मौके पर पहुँची और दोनों शवों को रेस्क्यू कर कब्जे में ले लिया। अब उन शवों की शिनाख्त हो गयी है।

चप्पल और बाइक के आधार पर हुई शिनाख्त

ये दोनों शव रुद्रपुर के ट्रांजिट कैम्प रुद्रपुर निवासी दो सगे भाईयों रामलखन उम्र 19 साल, राजकुमार राठौर उम्र 23 साल 26 जून से लापता थे। रामलखन की 26 जून को हल्द्वानी के खालसा इंटर कॉलेज में फार्मेसी की परीक्षा थी।जिसे दिलाने के लिए बड़ा भाई राजकुमार उसके साथ आया था। उसके बाद से दोनों भाई लापता हो गए थे। शनिवार को उनके परिजन दोनों भाईयों को तलाशते हुए गेठिया क्षेत्र के पास पहुँचे तो खाई में दो शवों के गिरे होने की सूचना उन्हें प्राप्त हुई। पुलिस द्वारा रेस्कयू कर खाई से निकाले गए शवों के चप्पलों व बाइक के आधार पर शवों की शिनाख्त हुई है।

पुलिस जांच में जुटी

पुलिस क्षेत्राधिकारी संदीप नेगी ने बताया कि शवों की शिनाख्त होने के बाद उन्हें पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।अब पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि परीक्षा देने हल्द्वानी पहुँचे दोनों भाई गेठिया की तरफ क्यो आये।

(Visited 13 times, 1 visits today)