अफ्रीकी संघ के G-20 का स्थाई सदस्य बनने की घोषणा के साथ प्रधानमंत्री ने किया वादा पूरा

भारत के जी -20 शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी ने वैश्विक नेताओं से बातचीत करने के बाद अफ्रीकी संघ को विश्व मंच के 21 वे स्थायी सदस्य बनने की घोषणा के साथ अपना वादा पूरा किया है | आपको बता दें कि एयू देशों का विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था से जुड़ना अपने आप में एक ऐतिहासिक घटना है |  जो उसे दिल्ली में आयोजित जी – 20 शिखर सम्मेलन के उद्घाटन के दौरान प्रदान की गई | 

PM मोदी ने अफ्रीकी संघ को दिलाया था भरोसा

पिछले साल बाली शिखर सम्मेलन में भी उसे निराशा हाथ लगी थी। विदेशमंत्री जयशंकर ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एयू को स्थाई सदस्यता दिए जाने को जी 20 में भारत और पीएम मोदी की विशिष्ट छाप का प्रमाण बताते हुए कहा कि इंडोनेशिया में पिछले वर्ष अफ्रीकी संघ के तत्कालीन अध्यक्ष को प्रधानमंत्री मोदी ने सदस्यता दिलाने का भरोसा दिया था। जयशंकर ने कहा कि पीएम ने तबके एयू प्रमुख को यह भी कहा था कि यह मोदी की गारंटी है और आज अफ्रीकी संघ को जी 20 की स्थाई सदस्य बनाकर पीएम ने इस गारंटी को पूरा किया है। पिछले निरंतर भारत वैश्विक दक्षिण या विकासशील देशों विशेषकर अफ्रीकी महाद्वीप की चिंताओं, चुनौतियों और आकांक्षाओं को विश्व मंच पर मुखर रूप से उठाने में अग्रणी रहा है।

अफ्रीकी संघ के राष्ट्रपति को सम्मानपूर्वक दिलाई स्थायी सदस्यता   

जी 20 विश्व मंच की स्थापना के बाद से अब तक विस्तार नहीं हुआ था | पीएम मोदी ने उदघाटन  से पूर्व अफ्रीकी संघ के राष्ट्रपति को सम्मान पूर्वक बुलाकर प्रभावशाली मंच का स्थायी सदस्य बनाने की घोषणा करते हुए मंच पर बैठने का स्थान भी दिया | आपको बता दें कि पीएम मोदी ने बैठक की शुरूआत में ही सदस्य देशों के समक्ष ग्लोबल साउथ के प्रमुख ब्लॉक अफ्रीकी संघ को जी-20 में शामिल करने का प्रस्ताव रखा जिसको सभी नेताओं ने स्वीकार कर लिया। पीएम ने कहा कि सबका साथ की भावना को ध्यान में रखते हुए भारत ने अफ्रीकी संघ को जी 20 की स्थायी सदस्यता दी जानी चाहिए और हम सभी इस प्रस्ताव पर सहमत हैं।

अफ्रीकी संघ में अफ्रीका महादेश के 55 देश शामिल हैं और वह लंबे समय से जी 20 की सदस्यता के लिए प्रयास कर रहा था। अफ्रीकी संघ के सदस्य देशों की जीडीपी लगभग तीन ट्रिलियन अमेरिकी डालर और जनसंख्या करीब 1.4 अरब है।

 

(Visited 17 times, 1 visits today)

One thought on “अफ्रीकी संघ के G-20 का स्थाई सदस्य बनने की घोषणा के साथ प्रधानमंत्री ने किया वादा पूरा

Comments are closed.