राज्यसभा में पास हुआ “नारी शक्ति वंदन अधिनियम” बिल के पक्ष में पड़े 215 वोट 

एएनआई। संसद के विशेष सत्र के चौथे दिन राज्यसभा से भी महिला आरक्षण बिल पास हो गया। सदन ने सर्वसम्मति के साथ ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ को पास कर दिया। राज्यसभा में महिला आरक्षण बिल के पक्ष में 215 वोट पड़े जबकि किसी ने भी बिल के खिलाफ वोट नहीं डाला। वहीं विधेयक के पास होने के बाद सभापति धनखड़ ने कहा कि यह एक सुखद संयोग है कि हिंदू रीति के अनुसार आज PM मोदी का जन्मदिन है। मैं उन्हें बधाई देता हूं।
 
 
सभी सदस्यों ने नारी शक्ति को बढ़ाने में निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

वहीं इससे पहले राज्यसभा में बिल पर चल रही चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि ”इस बिल से देश के लोगों में एक नया विश्वास पैदा होगा। सभी सदस्यों और राजनीतिक दलों ने महिलाओं को सशक्त बनाने और ‘नारी शक्ति’ को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आइए देश को एक मजबूत संदेश दें।”

बुधवार को लोकसभा से पारित हुआ था महिला आरक्षण बिल

कानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने राज्यसभा में दिनभर चली बहस का संक्षिप्त जवाब दिया और कहा कि उचित प्रक्रियाओं का पालन करने के बाद इसे लागू किया जाएगा। मंगलवार को नए संसद भवन में स्थानांतरित होने के बाद ‘नारी शक्ति वंदन अधिनियम’ पहला विधेयक है जो संसद द्वारा पारित किया गया। बता दें यह बिल बुधवार को लोकसभा से पारित हो चुका है।

यह भी पढ़ें – भारत ने कनाडा के लोगों के लिए वीजा सेवा को किया निलंबित,भारत वीजा एप्लिकेशन सेंटर कनाडा ने दी जानकारी

यह भी पढ़ेंमणिपुर में आरोपियों को छुड़ाने के लिए पांच जिलों में प्रदर्शन 

(Visited 65 times, 1 visits today)