इजरायल-हमास जंग के बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने बनाया कंट्रोल रूम

एएनआई। इजरायल-हमास युद्ध से प्रभावित भारतीय नागरिकों के लिए भारतीय विदेश मंत्रालय ने बुधवार को एक राहत भरी खबर सुनाई है। इजरायल-हमास जंग के बीच विदेश मंत्रालय की ओर से कंट्रोल रूम स्थापित करने का फैसला लिया गया है।

24 घंटे सक्रिय रहेगा कंट्रोल रूम: विदेश मंत्रालय 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X के जरिए जानकारी दी कि इस कंट्रोल रूम की स्थापना का मकसद इजरायल में स्थिति पर नजर बनाए रखने और वहां फंसे लोगों को सूचना एवं सहायता प्रदान करना होगा। विदेश मंत्रालय की ओर से बनाए गए इस कंट्रोल रूम में 24 घंटे काम जारी रहेगा।

विदेश मंत्रालय ने दिल्ली में मौजूद कंट्रोल रूम से संपर्क करने के लिए कई फोन नंबर भी जारी किए।

इन फोन नंबर के जरिए किए जा सकते हैं संपर्क 

  • 1800118797 (टोल-फ्री)
  • +91-11 23012113
  • +91-11-23014104
  • +91-11-23017905
  • +919968291988

वहीं, इजरायल के तेल अवीव में मौजूद भारतीय दूतावास ने भी 24 घंटे की आपातकालीन हेल्पलाइन स्थापित की है। वहीं, एक ईमेल आईडी भी जारी किए गए।

इन फोन नंबर के जरिए लोग कर सकते हैं संपर्क

  • +972-35226748
  • +972-543278392

ईमेल आईडी

cons1.telaviv@mea.gov.in

यह भी पढ़ें – भारत सरकार ने लांच किया ऑपरेशन अजय,  इसराइल युद्ध में फंसे भारतीयों की होगी सुरक्षित वतन वापसी

रमल्ला में मौजूद लोग इस फोन नंबर पर कर सकते हैं संपर्क 

रामल्ला में भारत के प्रतिनिधि कार्यालय ने 24 घंटे की आपातकालीन हेल्पलाइन भी स्थापित की है। फोन नंबर

+970-592916418 (व्हाट्सएप भी) और ईमेल- आईडी rep.ramallah@mea.gov.in के जरिए लोग संपर्क कर सकते हैं।

हम स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं: भारतीय दूतावास

इजरालय में मौजूद भारतीय दूतावास ने जानकारी दी कि “इजरायल में मौजूद भारतीय नागरिकों को हम यह आश्वस्त करना चाहते हैं कि दूतावास आपकी सुरक्षा और कल्याण के लिए लगातार काम कर रहा है। हम सभी बहुत कठिन समय से गुजर रहे हैं। लेकिन कृपया शांत और सतर्क रहें और स्थानीय सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन करें।

दूतावास ने आगे कहा,” हम आपकी मदद करने के लिए यहां हैं और हम आपमें से कई लोगों को धन्यवाद देते ,हैं जिन्होंने सराहना के इतने सारे संदेश भेजे हैं। हम स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और कृपया दूतावास द्वारा किसी भी अपडेट के लिए हमसे जुड़े रहें।”

इस बीच इजराइल-हमास युद्ध के दौरान इजराइल में भारतीय प्रवासियों ने देश की सेना पर भरोसा जताया है और कहा है कि वे शांति से रहना चाहते हैं।

हमें इजरायली सेना पर विश्वास:  इलाना नागौकर

इजराइल के अश्कलोन में भारतीय मूल की एक महिला इलाना नागौकर ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया,”कल यहां एक मिसाइल गिरी, वाहनों में आग लग गई और इन सभी इमारतों में बिजली गुल हो गई। हमें लगता है कि हम खतरे में हैं लेकिन हमें इजरायली सेना पर विश्वास है। यह हमारा घर है और हम कहीं नहीं जा सकते। हम यहां शांति से रहना चाहते हैं।”

भारतीय मूल की एक अन्य महिला, रिक्की ने इजराइल के निवासियों का समर्थन करने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा,”हम पीएम मोदी के आभारी हैं कि वह हमारा समर्थन कर रहे हैं। वह हमारे लिए इजराइल के लिए और भारत में हमारे समुदाय के लिए बहुत सारी चीजें कर रहे हैं।

(Visited 212 times, 1 visits today)