भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक करेंगे भारत की आठ दिवसीय यात्रा, विदेश मंत्रालय ने दी जानकारी 

पीटीआई। भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक शुक्रवार को भारत की आठ दिवसीय यात्रा शुरू करेंगे। इसकी जानकारी विदेश मंत्रालय (एमईए) ने दी है।

उन्होंने कहा कि यह यात्रा दोनों पक्षों को द्विपक्षीय सहयोग के संपूर्ण आयाम की समीक्षा करने और “अनुकरणीय” साझेदारी को आगे बढ़ाने का अवसर प्रदान करेगी। भूटान के राजा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे और उम्मीद है कि वह करीबी भारत-भूटान संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर विचार-विमर्श करेंगे।

विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि विदेश मंत्री एस जयशंकर और सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भूटान के राजा से मुलाकात करेंगे। एक बयान में कहा गया कि भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक, भूटान की शाही सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ 3 से 10 नवंबर तक भारत की आधिकारिक यात्रा पर होंगे। इस दौरान दोनों देशों के बीच कई अहम मुद्दों को लेकर चर्चा की जाएगी। भूटान के राजा असम और महाराष्ट्र राज्यों का भी दौरा करेंगे।

यह भी पढ़ें – अमेरिकी राजदूत एरिक गार्सेटी ने कहा “भारत अमेरिका के लिए सबसे महत्वपूर्ण देश है”

विदेश मंत्रालय ने कहा, भारत और भूटान के बीच मित्रता और सहयोग के अनूठे संबंध हैं, जिनकी विशेषता समझ और आपसी विश्वास है। इसमें कहा गया कि यह यात्रा दोनों पक्षों को द्विपक्षीय सहयोग के संपूर्ण आयाम की समीक्षा करने और विभिन्न क्षेत्रों में अनुकरणीय द्विपक्षीय साझेदारी को आगे बढ़ाने का अवसर प्रदान करेगी।

(Visited 415 times, 1 visits today)